PM Mandhan Pension Yojna


Kisan Maandhan Pension Yojna 2019

मोदी सरकार के द्वारा किसानों को 3000 रुपये प्रति माह पेंशन की योजना पीएम Kisan Maandhan Pension Yojna का पंजीकरण शुरू कर दिया गया है।

➤ योजना के तहत से किसानों को पेंशन दी जाएगी,

➤ योजना के तहत महाधन योजना मिनिमम 5 साल क लिए की जा सकती है ,

➤ इस योजना के तहत किसान को 3 हजार रुपये मासिक पेंशन मिलेगी,

पीएम किसान Mandhan Pension Yojna: इस योजना का का पंजीकरण शुरू हो गया है। इसका पंजीकरण 9 अगस्त 2019 से शुरू हो गया है। केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री ने कहा कि इस योजना के माध्यम से किसानों को पेंशन दी जाएगी। इस योजना के माध्यम से छोटे गरीब और सीमांत किसानों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए । नरेंद्र मोदी जी ने राज्यों को योजना के संचालन संबंधी जरुरी दिशा निर्देश दिए हैं।

आवेदन करने के लिए निर्धारित उम्र सीमा |

18 से 40 वर्ष के बीच के किसान इस योजना से जुड़ सकते हैं। योजना को सुरु करने के लिए मोदी जी द्वारा कुछ जरुरी आदेश राज्य सरकार को दिए है, जिससे यह योजना जल्द सुरु की जा सके |



Mandhan Pension Yojna के मुख्य लाभ:-

  1. अगर किसान की पत्नी अलग से योजना में शामिल होती है तो उसे भी 3000 रुपये पेंशन मिलेगी।
  2. इसके तहत किसान की उम्र के अनुसार, उसे प्रति माह 55 से 200 रुपये जमा करने होंगे।
  3. इस योजना की पेंशन निधि प्रबंधक बीमा कंपनी LIC होगी।
  4. एलआईसी भुगतान के लिए भी जिम्मेदार होगी।
  5. यदि किसान 60 से पहले किसी कारण से मर जाता है, तो उसकी पत्नी / पति पैसे जमा करने के बाद सेवानिवृत्ति के द्वारा इस योजना को जारी रख सकते हैं।
  6. यदि किसान की पत्नी / पति इस योजना को जारी नहीं रखना चाहते हैं, तो उस समय तक जमा की गई राशि ब्याज सहित वापस कर दी जाएगी।
  7. यदि किसान परीवार का अकेला सदस्य है तो यह राशि उसके नॉमिनी को दी जाएगी।
  8. यदि योजना से जुड़ा किसान 60 वर्ष की आयु के बाद मर जाता है, तो उसकी पत्नी / पति को पारिवारिक पेंशन के रूप में 50% राशि (1500 रुपये) मिलती रहेगी।
  9. कोई भी किसान कम से कम 5 साल के लिए इस योजना का विकल्प चुन सकता है।
  10. इस योजना मै, LIC बचत दर पर ब्याज का भुगतान करके उस किसान को जमा की गई राशि वापस कर देगा।
  11. जो भी किसान पीएम किसान Mandhan Pension Yojna का हिस्सा है, उसे पीएम पेंशन योजना की राशि अपने पीएम किसान योजना खाते से निकालने का विकल्प मिलेगा।
  12. यदि कोई किसान नियमित रूप से धन जमा करने में चूक करता है, तो उस किसान को ब्याज के साथ शेष राशि का भुगतान करके योजना में शामिल होने का मौका मिलेगा।
  13. प्रारंभ में इस योजना के लिए पंजीकरण अधिकांश राज्यों में कॉमन सर्विस सेंटर के माध्यम से होगा।
  14. बाद में, पीएम किसान राज्य नोडल अधिकारी, ऑनलाइन पंजीकरण के लिए अन्य विकल्प भी उपलब्ध कराए जाएंगे।
  15. Kisan Mandhan Pension Yojna का पंजीकरण पूरी तरह से मुफ्त किया जयेगा ।
  16. सरकार कॉमन सर्विस सेंटर पर 30 रुपये का शुल्क देगी।
  17. LIC, बैंक और भारत सरकार मिलकर किसानों से जुड़ी शिकायतों और समस्याओं के समाधान के लिए एक तंत्र बनाएंगे।
योजना की समीक्षा निगरानी और संशोधन के लिए सचिवों की एक समिति का गठन किया गया है ।
और यह भी जानें:-
अगर आपको पोस्ट पसंद आया हो तो शेयर जरूर करें | पोस्ट पड़ने के लिये धन्यवाद |